माझी मुक्ताफळे

Primary tabs

chetanlakhs's picture
chetanlakhs in जनातलं, मनातलं
6 Aug 2015 - 10:32 pm

"यह प्यार किस चिड़िया का नाम है
किस पेड़ पर रहती है आजकल
जाने क्यों लोग हमारे अल्फाजों को
प्यार समझ रहे है आजकल"

"बेवफा न आप थे ना हम, बस वक्त का तकाजा था"

"शब्द सरळच असतात..आपण त्यात अर्थ शोधतो"

"दर्द हमेशा शायर के दिल का ही होता है"

"दिल धड़क रहा है
सांस फूल रही है
दिल बीमार है उनका
क्योंकि उसमे रूह नहीं है"

"बड़ी शिद्दत से उन्हें मनाया था
रूबरू हुए तो धड़कनो ने काम तमाम कर दिया
उसकी दर पर आज फरियाद लेकर गए
उसने दिल की धड़कनो की दुहाई दी"

"अब मौत से खेल शुरू हुआ
और जिंदगी लुटती चली गयी
उनकी बंद आंखे देखकर नींद उड़ गयी
प्यारी मुस्कान देखकर उनके दिल का हाल समझ आया"

"नींद ने आज गुस्ताख़ी की है
आखों की बगावत कुचल दी है
जब सवाल पूछा उनसे
उन्होंने कहा की आज दिल ने जवाब दे दिया"

"बाबा ने कहा, करो करो करने से होगा
हमने पूछा, जो हो गया उसका क्या होगा"

"खरी गम्मत प्रेमाचा खेल मांडण्यात होती
संसार तर तो पसरा आवरण्यासाठी असतो"

"आज तीच भेटली,
मला न कळली,
भेटून का गेली
तो अर्थ समजावून गेली"

"वदली दोनच शब्द देऊन, गुलाबाच्या पाकळ्या हाती, मी वेडा त्याचा बाग़ सजवतो"

"आठवणीत तिच्या रात्र संपून गेली, उगवतीचा सूर्य तिच्या सवेच आला"

"आज आँखे मूँद ली उसने, दिल फिर टूट गया ।
दुआ में हमारी फिर उसे ही मांग लिया ।"

"चाँद की रोशनी ने शमा बुझने ना दी, परवानो की मौत ने वाकिया बयान कर दिया"

"कुछ इस तरह तुमसे रूबरू हुए, खामोशी बोल गयी ।
जिंदगी फिर तेरे दर पे लाई है, पर तू रुसवा हो गयी"

"उस वक्त उम्र का तकाजा था, आज तनहाई की मजबूरी है ।
अल्फाज तब भी थे पर अब अंदाज बदल गया ।"

"खाना खाकर मन्दिर तक टेहलने चले,
फकीर ने कहा वहां पहुंचने के लिए दिल भरा होना चाहिए"

"कविता ह्या रात्रीच सुचतात, समजतात, उमजतात"

"जे घडत ते चांगल्यासाठीच ...!
फरक फ़क्त एवढाच असतो की ते कधी आपल्या चांगल्यासाठी असतं तर कधी दुसऱ्याच्या चांगल्यासाठी असतं...!"

"शायरी से पागल हो जावो, तो समझो शायर कमाल का है"

"असली और नकली का फर्क न जानने वाले पुरे बाजार को बेइमान कहते है "

"सच समझ आ जाये तो इन्सान की फितरात समझ आती है
पर अगर सच समझने की फितरत ही न हो तो...खुदा रहम करे"

"उसने तो सबको एक जैसा बनाया, फितरत तो इंसानो की इजात है"

"दुसरे के अंदर झान्कने का, अजीब शौक है इन्सान का"

"खुद हमारा हाल पूछते है और खुद बेहाल कर निकल जाते है"

"किस्सा आप शुरू करे और खतम भी आप करे
हम तो सिर्फ तमाशा बन रह गये"

"वाकीया हो चुका.. अब सिर्फ हालत का जायाजा ले सकते है हम"

मुक्तकप्रकटन

प्रतिक्रिया

मुक्ताफळांना ऊर्दूत काय म्हणतात?

"फ्रीफ्रूट्स" !!

chetanlakhs's picture

6 Aug 2015 - 11:22 pm | chetanlakhs

बेफिक्र तासूर

एस's picture

6 Aug 2015 - 11:29 pm | एस

मग धाग्याचं नावपण ऊर्दूतच द्यायचं होतं ना!

chetanlakhs's picture

6 Aug 2015 - 11:33 pm | chetanlakhs

त्याची फार तोडमोड करता येत नाही :-))

माम्लेदारचा पन्खा's picture

6 Aug 2015 - 11:30 pm | माम्लेदारचा पन्खा


"बाबा ने कहा, करो करो करने से होगा
हमने पूछा, जो हो गया उसका क्या होगा"

दादांची आठवण आली !!

कॅप्टन जॅक स्पॅरो's picture

6 Aug 2015 - 11:31 pm | कॅप्टन जॅक स्पॅरो

(कानाला हात लाउन)
उस्ताद अत्मुसबुवांची आठवण आली.